Haryana News: हरियाणा दिवस के मौके पर इनेलो की प्रेस कॉन्फ्रेंस, अभय चौटाला बोले- प्रदेश की जनता कर रही है विधानसभा चुनाव का इंतजार

 
Haryana News: हरियाणा दिवस के मौके पर इनेलो की प्रेस कॉन्फ्रेंस, अभय चौटाला बोले- प्रदेश की जनता कर रही है विधानसभा चुनाव का इंतजार

Haryana News: इनेलो के राष्ट्रीय महासचिव और ऐलनाबाद से विधायक अभय चौटाला ने यहां प्रैस वार्ता कर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा सरकार के 9 साल पूरे होने पर बताई गई 9 बड़ी उपलब्धियों के जवाब में कहा कि भाजपा सरकार ने 9 सालों के राज में 9 बड़े घोटाले किए हैं, उनको भी जनता को बताना चाहिए था और उनकी जांच भी करवाई जानी चाहिए। सबसे बड़ा घोटाला धान घोटाला है, पिछले 9 सालों से हर साल धान में नमी के नाम पर 250-300 रुपए प्रति क्विंटल काटा जाता है और हजारों करोड़ रूपए लूटे जा रहे हैं। इसी तरह लॉक डाउन में जब पूरा देश बंद पड़ा था तब शराब और रजिस्ट्री घोटाला हुआ। पेपर लीक घोटाला बहुत बड़ा घोटाला है। राइस मिलों में बिहार और उड़ीसा से मोटा चावल सस्ते में खरीदा जाता है फिर उसे यहां महंगे दामों में बेचा जाता है। ट्रांसफर में घोटाला होता है, जहां जरुरतमंद लोगों को ट्रांसफर नहीं मिलता वहीं कुछ लोग पैसा देकर मनपंसद की जगह पर ट्रांसफर ले लेते हैं और खूब लूट-खसोट करते हैं। बारिश से खराब हुई फसलों को लेकर सीएम ने मुआवजा देने की बात कही थी। लेकिन किसानों को आज तक मुआवजा नहीं मिला। भाजपा के लोग कहते हैं कि हम 14 फसलों को एमएसपी पर खरीदते हैं। हरियाणा में धान करीब 2100 रुपए प्रति क्विंटल पर खरीदी जाती है जबकि छत्तीसगढ़ में धान का रेट 2600 रुपए प्रति क्विंटल है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता विधानसभा चुनावों की बाट देख रही है और जहां इनेलो को सत्ता में लाएगी वहीं भाजपा गठबंधन को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाऐगी।


इनेलो नेता ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री की करनाल रैली में प्रदेश के लोग तो नहीं जाएंगे। पंचायतों ने पहले ही इनका बायकाट किया हुआ है। अब इन्होंने रैली में भीड़ इक_ा करने के लिए सरकारी दफ्तरों और एचकेआरएन के कर्मचारियों को जबरदस्ती रैली में ले जाने के आदेश दिए हैं। डिपो धारकों को भी रैली में 5-5 लोग लाने के आदेश दिए हैं नहीं तो उनका लाइसेंस रद्द कर देंगे।


उन्होंने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि इनेलो सुप्रीमो चौ. ओम प्रकाश चौटाला ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से विचार विमर्श कर यह निर्णय लिया है कि इस समय पंचायत समिति के लोग सबसे दुखी हैं, जहां हमारी सरकार आने पर हम इन पर लगी सभी पाबंदियां खत्म कर देंगे वहीं आगामी विधानसभा चुनाव में हम 11 सीटें पंचायत प्रतिनिधियों को देंगे जिसमें जिला परिषद, ब्लॉक समिति और ग्राम पंचायत के लोग होंगे।


उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के निर्णय उनके हाईकमान करते हैं लेकिन बावजूद उसके भूपेंद्र सिंह हुड्डा 4 उप-मुख्यमंत्री बनाने का बयान देते हैं जिसका कोई महत्व नहीं है। हुड्डा के इस बयान को उनके प्रदेशाध्यक्ष समेत कांगे्रस पार्टी के दूसरे गुटों ने भी सिरे से खारिज कर दिया है। जब भूपेंद्र हुड्डा को इस तरह के फैसले लेने का कोई अधिकार ही नहीं है, तो वो ऐसे बयान देकर सिर्फ खुद की फजीहत ही कराते हैं। अभय चौटाला ने कहा कि इनेलो हाईकमान का फैसला है कि हमारी सरकार आने पर हम दो उप-मुख्यमंत्री बनाएंगे जिसमें एक पिछड़ा वर्ग और एक अनुसूचित समुदाय से होगा।


इनेलो नेता ने कहा कि इनेलो ने हमेशा छतीस बिरादरी को साथ लेकर चलने का काम किया है और ऐसे लोगों को राज्यसभा का मेंबर बना कर भेजा है जो पार्टी के साधारण कार्यकर्ता थे और जिनके पास फार्म भरने तक के पैसे नहीं थे। हमारा राजनीतिक इतिहास उठा कर देख लो कि हमने पिछड़ा वर्ग से रणबीर गंगवा और राम कुमार कश्यप को राज्यसभा का मेंबर बना कर भेजा। वहीं हमने अनुसूचित जाति से अंबाला के फकीर चंद, जो पार्टी के एक साधारण कार्यकर्ता थे, को राज्यसभा में भेजा। राव मान सिंह को राज्यसभा में भेजा। हरियाणा पब्लिक सर्विस कमिशन में भी हमने सभी जाति विशेष के लोगों को प्रतिनिधित्व देने का काम किया ताकि किसी भी वर्ग के साथ भेदभाव न हो।  

अभय सिंह चौटाला ने पंजाब में एसवाईएल को लेकर हो रही बैठक को लेकर कहा कि यह सब नाटक है। हरियाणा को पानी जरूर मिलेगा, इसे कोई रोक नहीं सकता, जरुरत पड़ी तो हम भी कोर्ट जाएंगे। मुख्यमंत्री को हमने एक पत्र भी लिखा है जिसमें हमने मांग की है कि विधानसभा का सत्र बुलाना चाहिए और पंजाब सरकार के नाटक को खत्म करना चाहिए। राजनीति से ऊपर उठकर एकजुटता दिखाते हुए मुख्यमंत्री को सर्वदलीय बैठक भी बुलानी चाहिए। अगर भाजपा हरियाणा की हितैषी है तो उन्हें इस काम को आगे बढ़ाना चाहिए। चाहे भाजपा की सरकार है या पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार है, सभी इस मुद्दे को ठंडे बस्ते में डालना चाहते हैं। हम जनवरी तक इंतजार करेंगे उसके बाद कोई बड़ा निर्णय लेंगे अगर कोई बड़ा आंदोलन भी चलाना पड़ा तो उससे पीछे नहीं हटेंगे।

पराली को लेकर कहा कि हरियाणा के किसानों ने नियंत्रण किया है। पंजाब में पराली जल रही है, लेकिन पंजाब सरकार हरियाणा के किसानों को बदनाम करना चाहती है। प्रदूषण बढऩे में किसानों का कोई दोष नहीं है। सडक़ों पर वाहन ज्यादा बढ़ गए हैं, दिल्ली में भी बहुत ज्यादा हैं, इस पर भी नियंत्रण होना चाहिए। केवल किसानों को बदनाम करने के लिए इस तरह के बयान किसी को भी नहीं देने चाहिए।


उन्होंने अनिल विज को लेकर कहा कि वे पिछले चार वर्षों से यही देख रहे हैं कि विज साहब के ऐसे बेचारगी वाले बयान आते रहते हैं। अगर वो सीएम ऑफिस से इतना ही पीड़ित हैं तो उन्हें इस तरह बेइज्जत नहीं होना चाहिए और इस्तीफा देना चाहिए और कहा कि मैं विज साहब से बात करूंगा कि मुझे बहुत पीड़ा होती है जब आप जैसे आदमी के साथ इस तरह की बात होती है।


इंडिया गठबंधन के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि आज इंडिया गठबंधन की वजह से भाजपा सरकार में बौखलाहट है। अभी तो केजरीवाल को नोटिस हुआ है, जिसकी आप पार्टी को बहुत पीड़ा है, अगर समय रहते सारा विपक्ष इक_ा नहीं हुआ तो एक भी नहीं बचेगा, सब जेल जाएंगे। अब भी अगर विपक्ष के नेताओं को सद्बुद्धि नहीं आई तो लोकसभा के चुनावों के नतीजे के बाद जैसे रूस और चीन में फैसले होते हैं, हमारे देश में भी उसी तरह के फैसले आएंगे।

Tags