National Games: नेशनल गेम्स के एथलेटिक्स इवेंट में छाए हरियाणवी खिलाड़ी, अब तक 18 गोल्ड के साथ दूसरे स्थान पर हरियाणा

 
National Games: नेशनल गेम्स के एथलेटिक्स इवेंट में छाए हरियाणवी खिलाड़ी, अब तक 18 गोल्ड के साथ दूसरे स्थान पर हरियाणा

National Games: गोवा में चल रहे 37वें राष्ट्रीय खेलों के एथलेटिक्स इवेंट में हरियाणा के खिलाड़ियों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए मेडल अपने नाम किए हैं। एथलेटिक्स में अभी तक हरियाणा के खाते में 5 पदक आये हैं, जिसमें 4 रजत और 1 कांस्य पदक शामिल है। हरियाणा की ओर से विक्रांत पांचाल, निधि, निर्भय और मनप्रीत ने रजत पदक अपने नाम किए जबकि हरदीप के खाते में कांस्य पदक आया।

विक्रांत पांचाल ने 400 मीटर रेस में और निर्भय ने डिस्कस थ्रो में रजत पदक जीता है। हरदीप ने 20 किमी रेस वॉक में कांस्य पदक जीता। खिलाड़ियों के उल्लेखनीय प्रदर्शन पर टीम मैनेजर जितेंदर बांगड़ ने कहा कि ये सब हरियाणा सरकार की खेल नीति के कारण ही संभव हो पाया है। खेल नीति के अनुरूप प्रदेश के खिलाड़ियों को जो सुविधाएं मिल रही हैं, आज उनकी बदौलत युवा खेल में काफी आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें हरियाणा ओलंपिक एसोसिएशन का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। हम हरियाणा के लिए एक नीरज चोपड़ा नहीं बल्कि अनेक नीरज चोपड़ा बनाएंगे। राष्ट्रीय खेलों में आने वाले दिनों में खिलाड़ी और भी बेहतर प्रदर्शन करेंगे।

अपने पापा और ताऊ से मिली प्रेरणा- निर्भय

डिस्कस थ्रो में रजत पदक विजेता निर्भय ने अपनी उपलब्धि के लिए परिवारजनों और अपने कोच का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे खेल के लिए प्रेरणा अपने पापा और ताऊ जी से मिली है। पापा मेरे कोच हैं और ताऊ जी डिस्कस और शॉटपुट थ्रोअर रहे हैं। निर्भय ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा चलाई जा रही स्पोर्ट्स पॉलिसी के तहत खिलाड़ियों को विभिन्न सुविधाएं दी जा रही हैं। खिलाड़ियों को नकद पुरस्कार मिलते हैं और खेल आधारभूत ढांचा विकसित होने से खिलाड़ियों को बहुत लाभ होता है।

विक्रांत और हदरीप ने भी अपनी जीत के लिए अपने परिवारजनों व कोच का धन्यवाद व्यक्त किया। विक्रांत ने भी हरियाणा की खेल नीति की सराहना की।

राष्ट्रीय खेलों की पदक तालिका में हरियाणा 18 गोल्ड के साथ दूसरे स्थान पर

हरियाणा के खिलाड़ियों द्वारा किए जा रहे उल्लेखनीय प्रदर्शन के बल पर राष्ट्रीय खेलों की पदक तालिका में हरियाणा 18 गोल्ड के साथ दूसरे स्थान पर बना हुआ है। खबर लिखे जाने तक हरियाणा के खाते में कुल 51 मेडल हैं, जिनमें 18 गोल्ड, 17 रजत और 16 कांस्य पदक शामिल हैं।

हरियाणा ने अभी तक रेसलिंग में 1 रजत व 1 कांस्य, बैडमिंटन में 1 स्वर्ण, टेबल टेनिस में 1 रजत, फेनसिंग में 2 स्वर्ण, 1 रजत व 4 कांस्य, नेटबॉल में 4 स्वर्ण, रगबी में 1 स्वर्ण, जिमनास्टिक में 4 स्वर्ण, 3 रजत व 4 कांस्य, पेनकैक सिल्ट में 3 स्वर्ण, 3 रजत व 2 कांस्य, एथलेटिक्स में 4 रजत व 1 कांस्य तथा मॉडर्न पेंटाथलॉन में 3 स्वर्ण, 4 रजत व 4 कांस्य पदक जीते हैं।

Tags