IAS IPS Village: UP के इस गांव को कहते है IAS-IPS की फैक्‍ट्री, हर घर से हैं अधिकारी

युवा संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा की परीक्षा सबसे कठीन परीक्षा में से एक है.

IAS या IPS अफसर बनने का सफर हर कोई देखता है, लेकिन परीक्षा में पास कोई ही होता है.

लेकिन भारत की एक गांव ऐसा भी, जहां हर घर से IAS-IPS अधिकारी है.

लेकिन आप सोच रहे होगें कि क्या ये सच में है.

आपको बता दें कि इस गांव में 75 में से 47 परिवारों में IAS, IPS, IFS और IRS अधिकारी हैं.

पहली बार 1964 में यहां एक परिवार के दो भाई छत्रपाल सिंह और अजय कुमार IAS बने थे.

इनके बाद फिर 1968 में इनके भाई शक्तिकांत सिंह फिर 2022 में उनके बेटे यशस्‍वी IAS बने थे.

जानकारी के लिए बता दें कि, 1914 में मुस्तफा हुसैन सबसे पहले IAS अधिकारी बने थे.

ये गांव यूपी के जौनपुर के मधोपत्‍ती में है.

सपना चौधरी ने 80 किलो वजन से खुद को किया स्लिम-ट्रिम, ट्रांसफॉर्मेशन से हर कोई हैरान

NEXT